Uncategorized

Kanwar Yatra 2022: जानिए कब शुरू होगी कांवड़ यात्रा और क्या होते है इसके नियम

कांवड़ यात्रा सावन महीने के साथ शुरू हो जाती है । सावन का महीना 14 जुलाई से शुरू हो जाएगा। सावन के महीने शुरू होते ही देश भर में भगवान शिव की अराधना शुरू कर दी जाती है। देश भर में बहुत से मेले और यात्राएं भगवान शिव की स्तुति के लिए आयोजित किए जाते हैं।

कांवड़ यात्रा क्यों की जाती हैं?

  • कांवड़ यात्रा सावन महीने शुरू होते ही देश भर में शुरू हो जाती है।
  • कांवड़ यात्रा में लाखों श्रद्धालु सम्मिलित होते हैं इसमें वे अपने नजदीकी तीर्थ स्थलों तथा गंगा नदी से कांवड़ में पानी भर के अपने कंधो पर लेके यात्रा करते हैं।
  • कांवड़ यात्रा में कांवड़ में लिया गया गंगा जल भगवान शिव के मंदिर में चढ़ाया जाता है।
  • कांवड़ यात्रा में श्रद्धालुओं द्वारा भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए ये यात्रा की जाती हैं।
  • विभिन्न श्रद्धालुओं द्वारा भगवान शिव अथवा अपने आराध्य देवताओं को प्रसन्न करने के लिए विभिन्न तरह की स्तुति की विधियां की जाती है जिसमें से कांवड़ यात्रा भी एक विधि है।

कांवड़ यात्रा के संदर्भ में पौराणिक मान्यताएं अथवा लोककथाएं

पौराणिक मान्यताओं की माने तो कांवड़ यात्रा का उदय रावण से माना जाता है। समुद्र मंथन के समय जब भगवान शिव द्वारा विषपान किया गया था तो उनके द्वारा विष को अपने गले में ही रोक लिया गया था। भगवान शिव पर जब उस विष का दुष्प्रभाव पड़ना शुरू हुआ तो इसे दूर करने का काम रावण द्वारा किया गया। रावण ने सर्वप्रथम कांवड़ में गंगा जल भर के भगवान शिव का जलाभिषेक किया था तब से कांवड़ यात्रा की शुरुआत को माना जाता है। श्रद्धालु प्रत्येक वर्ष कांवड़ यात्रा के माध्यम से भगवान शिव को प्रसन्न करने का प्रयत्न किया जाता है।

जानिए क्या होगा खास इस बार की कांवड़ यात्रा को

  • कांवड़ यात्रा पिछले 2 वर्षो से कोरोना की वजह से नहीं हो पाई है अत:, इस बार ये यात्रा का आयोजन पूरे 2 वर्षो बाद होगा।
  • सरकार द्वारा कांवड़ यात्रा को भव्य और शानदार बनाने के लिए पुष्पवर्षा की बात कही गई है।सरकार द्वारा ये घोषणा की गई है की सभी कांवड़ियों पर फूलो की बारिश की जाएगी।
  • कांवड़ यात्रा सावन माह के अंत तक चलती है हिंदू कैलेंडर के अनुसार सावन वर्ष का पांचवा महीना होता है।
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Telegram_logo
Education MentorJoin our Telegam
Join